Sunday, July 1, 2012

बेचारे पति

सोच
क्या ये सच है बात .....दिल यही सोचता है ,जब भी ऐसा कुछ नज़रों के सामने आता है ,क्या सच में पति गुस्से को पीता है ,क्या वो सहता है ,क्या पत्नी सच में जालिम होती है ,जो शादी से पहले सपनो की रानी थी वो शादी के बाद क्या क्या इतनी भयानक हो जाती है और पति इतना बेचारा ,दुःख होता है बहुत ऐसी सोच पर ,ऐसी मानसिकता वाले लोगो पर ,और ऐसी बातों पर स्त्रियां ही हँसती हैं ,मुझे दुःख होता है और गुस्सा भी आता है ,जो स्त्रियां दिन रात सब सहती हैं वो ऐसी बातो पर हस कैसे लेती हैं ,कब बदलेगा ये सब ,कब एक स्त्री को उसकी मर्यादा के साथ अपनाया जायेगा ......नहीं मालूम ...

4 comments:

  1. sahi keha ramadi mardo ne aurato ko majak ka jariya bena diya hai

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद अनु ......

      Delete
  2. और औरतें ना जाने कितने गमो का जहर पीती है ......

    ReplyDelete
    Replies
    1. सही आप ने उपासना सखी

      Delete